68500 शिक्षक भर्ती: आचार संहिता लागू होने से फंसी शिक्षकों की नियुक्तियां, जॉइनिंग देने से जिम्मेदारों ने किया इंकार

68500 शिक्षक भर्ती: आचार संहिता लागू होने से फंसी शिक्षकों की नियुक्तियां, जॉइनिंग देने से जिम्मेदारों ने किया इंकार:

68500 शिक्षक भर्ती: आचार संहिता लागू होने से फंसी शिक्षकों की नियुक्तियां, जॉइनिंग देने से जिम्मेदारों ने किया इंकार
प्रयागराज : प्राइमरी स्कूलों में सहायक अध्यापक भर्ती के दूसरे रिजल्ट में चयनित अभ्यर्थियों में से करीब पांच सौ नियुक्ति पत्र मिलने के बाद भी ज्वाइन नहीं कर सके हैं। चुनाव आचार संहिता का हवाला देकर इन्हे ज्वाइनिंग कराने से इन्कार कर दिया गया है।

प्राथमिक स्कूलों में सहायक अध्यापक भर्ती के दूसरे रिजल्ट में 4706 अभ्यर्थी सफल हुए थे। उनसे ऑनलाइन आवेदन लिए गए तो 4596 ने आवेदन किया। काउंसिलिंग के बाद अधिकांश जिलों ने नौ मार्च तक नियुक्ति पत्र बांटे तो कुछ में 10 मार्च को वितरण हुआ। उसी दिन शाम को लोकसभा चुनाव की आचार संहिता लागू हो गई। सोमवार को कई बीएसए व एबीएसए ने ज्वाइन कराने में आचार संहिता का हवाला देकर इन्कार कर दिया।

हालांकि अधिकांश जिलों ने शिक्षकों को इस आधार पर ज्वाइन करा दिया कि उनकी नियुक्ति प्रक्रिया आचार संहिता के पहले ही पूरी हो चुकी है। फिर भी हरदोई, प्रयागराज, फरुखाबाद, हाथरस आदि में ज्वाइन नहीं कराया गया। परिषद सचिव रूबी सिंह ने इस संबंध में शासन को पत्र लिखा है कि इन जिलों में करीब 500 शिक्षक प्रभावित हैं, उन्हें ज्वाइन कराने के लिए चुनाव आयोग से अनुमति ली जाए। यदि आयोग ने इन्कार किया तो उन्हें जुलाई में ही ज्वाइन कराया जा सकेगा। वहीं ज्वाइनिंग न कराए जाने से अभ्यर्थियों में आक्रोश व्याप्त है।

.