योगेन्द्र अवस्थी, लखनऊ : अब आधार सिर्फ आपकी पहचान के लिए होगा। माता-पिता या पति की जगह लिखे नाम के आगे केवल केयर ऑफ लिखा होगा। भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण (यूआईडीएआई) ने रिश्तों को गोपनीयता बनाए रखने के लिए यह बदलाव किया है। यूआईडीएआई के अधिकारियों का कहना है कि आधार पहचान के लिए है, न ही रिश्ते बताने के लिए। इसके लिए दूसरे दस्तावेज हैं, जिनका इस्तेमाल वल्दियत साबित करने में किया जा सकता है।
यूआईडीएआई से जुड़े वरिष्ठ अधिकारियों के मुताबिक आधार में प्राइवेसी का मुद्दा उठने के बाद यह कदम उठाया गया है। इसे देखते हुए सिस्टम में केयर ऑफ दर्ज किया गया है। ऐसे में कोई चाहकर भी वाइफ ऑफ, फादर ऑफ और मदर ऑफ दर्ज नहीं करवा सकेगा। आधार रजिस्ट्रेशन के समय अपने माता, पिता या पति का नाम दर्ज करवाने पर सिस्टम उसकी जगह केयर ऑफ में दर्ज कर लेगा। हालांकि, अब तक जारी हो चुके आधार में संशोधन करवाना जरूरी नहीं किया गया है। 
अब आधार से रिश्ते नहीं होंगे उजागर

यूआईडीएआई ने गोपनीयता बनाए रखने के लिए किया संशोधन
माता-पिता और पति के नाम के आगे लिखा होगा केवल केयर ऑफ

.